कोहली ने कहा- हार से हम निराश नहीं, वर्ल्ड कप में दबाव में बेहतर खेलना होगा


नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया ने पांच वनडे की सीरीज में भारत को 3-2 से हराया। 30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले वर्ल्ड कप से पहले टीम इंडिया की यह आखिरी सीरीज थी। सीरीज गंवाने के बाद विराट कोहली ने कहा, “टीम इस हार से निराश नहीं हैं, लेकिन वर्ल्ड कप में सफल होने के लिए दबाव में बेहतर खेलना होगा।वर्ल्ड कप के लिए टीम संतुलित है और सिर्फ एक स्थान के लिए सही प्लेयर का चुनाव किया जाना है। वर्ल्ड कप में कोई भी टीम फेवरेट के तौर पर नहीं उतरेगी। जिस टीम ने रफ्तार पकड़ ली, उसे रोकना मुश्किल होगा।”

  1. भारतीय कप्तान ने कहा, “वेस्टइंडीज कभी भी धमाका कर सकती है। इंग्लैंड मजबूत टीम है। ऑस्ट्रेलिया ने हाल ही में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। न्यूजीलैंड भी खतरनाक टीम है। अगर पाकिस्तानीटीम का दिन रहा था तो वह किसी भी टीम को शिकस्त दे सकती है।”

  2. कोहली ने कहा, “आईसीसी टूर्नामेंट में मौजूदा टीम से अधिकतम एक ही बदलाव किया जाएगा। हार्दिक पांड्या की टीम में वापसी होगी। उनके आने से बल्लेबाजी क्रम को ताकत मिलेगी और गेंदबाजी विकल्प भी होगा। वर्ल्ड कप में हमें कहां जाना है, इसे लेकर हम बिल्कुल स्पष्ट हैं।”

  3. कोहली ने कहा, “ईमानदारी से कहूं तो हम में से कोई भी खिलाड़ी निराश नहीं है, ना ही किसी तरह का पछतावा है। निश्चित ही जो प्रयोग किए गए, हार के लिए उनका बहाना नहीं दे सकते। हमने कुछ फैसले सही नहीं लिए, उस पर हमें सोचना होगा।”

  4. विराट ने कहा, “हमें वर्ल्ड कप में केवल दबाव की स्थिति में बेहतर प्रदर्शन करना होगा। यह अंतरराष्ट्रीय मैच हैं और इनमें जिन्हें भी मौका मिले उन्हें अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए। हालांकि कई बार आप दबाव की स्थिति में उतना अच्छा नहीं खेल पाते हैं जिसकी जरूरत होती है।”

  5. विराट ने आईपीएल के दौरान अतिरिक्त दबाव को लेकर कहा, “मुख्य खिलाड़ियों को आईपीएल के दौरान वर्ल्ड कप को ध्यान में रखना होगा। आईपीएल हर साल होता है, लेकिन वर्ल्ड कप चार साल में ही खेला जाता है। इसका मतलब यह नहीं कि आईपीएल में खेलने के लिए हम प्रतिबद्ध नहीं हैं, लेकिन हमें समझदारी से खेलना होगा।”

  6. कोहली ने सीरीज जीतने पर ऑस्ट्रेलियाई टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा, “मेहमान टीम ने उसी तरह से क्रिकेट खेली जिस तरह से भारत ने आस्ट्रेलिया में खेली थी। हमारी टीम वहां सफल रही थी। उनमें वही ऊर्जा और इच्छा शक्ति थी जो आस्ट्रेलिया में हमारे अंदर थी। इस जीत से उनका आत्मविश्वास काफी बढ़ेगा।”

  7. भारतीय टीम ने वर्ल्ड कप को ध्यान में रखते हुए सीरीज में कई बदलाव किए। भुवनेश्वर कुमार को पहले दो वनडे में आराम दिया गया। अंबाती रायुडू, लोकेश राहुल और ऋषभ पंत ने मध्यक्रम की भूमिका संभाली। वहीं, महेंद्र सिंह धोनी को भी आखिरी दो मैचों में आराम दिया गया।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      विराट की कप्तानी में भारतीय टीम पहली बार लगातार तीन मैच हारी।


      कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में दो शतक लगाए।

We would like to update you with latest news.