छत्रपति शिवाजी स्टेशन के पास फुट ओवर ब्रिज का हिस्सा गिरा, 3 महिलाओं समेत 6 की मौत


मुंबई. छत्रपति शिवाजी स्टेशन के पास बने एक फुटओवर ब्रिज (एफओबी) का बड़ा हिस्सा गुरुवार शाम 7:30 बजे गिर गया। हादसे में 3 महिलाओं समेत6 लोगों की मौत हो गई, 36लोग घायल हैं। कई लोग मलबे में दबे थे, जिन्हें निकाल लिया गया है। पुलिस के मुताबिक, राहत कार्य खत्म हो गया हैऔर सड़क साफ कर दी गई है। मामले में आजाद मैदान पुलिस स्टेशन में धारा 304 ए (लापरवाही से मौत) के तहत मध्य रेलवे और बीएमसी के संबंधित अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।

मुंबई पुलिस के मुताबिक, फुट ओवर ब्रिज सीएसएमटी के प्लेटफॉर्म नंबर एक के उत्तरी छोर को बीटी लेन से जोड़ता है। हादसे की वजह से ट्रैफिक प्रभावित हुआ। सड़क पर खड़ी कई गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गईं। घायलों को अस्पताल ले जाया गया है, इनमें से कुछ की हालत गंभीर है। मृतकों में अपूर्वा प्रभु (35), रंजना तांबे (40),जाहिद शिराज खान (32), सारिका कुलकर्णी (35) और तापेंद्र सिंह (35) व एक अन्य शामिल हैं।प्रशासन की तरफ से हेल्पलाइन नंबर 022-23694721, 022-22694727, 022-22704403, 022-61234000, 1916जारी किए गए।

जांच में सही पाया गया था ब्रिज, हादसे की उच्चस्तरीय जांच होगी- फडणवीस

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा, “इस ब्रिज की जांच की गई थी, जिसमें इसे फिट करार दिया गया था। इसके बाद ऐसा हादसा सवाल उठाता है। इसकी उच्चस्तरीय जांच की जाएगी और दोषियों के खिलाफ एक्शन लेंगे।मृतकों के परिजनों को पांच लाख और घायलों को 50 हजार रुपए मुआवजा दिया जाएगा, घायलों का मुफ्त इलाज होगा।”

महाराष्ट्र के मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि रेलवे और बीएमसी इस हादसे की जांच करेंगे। हालांकि, उन्होंने कहा कि ब्रिज की हालत खराब नहीं थी। थोड़ा काम बाकी था, जिसे पूरा किया जा रहा था। इसकी भी जांच की जाएगी कि काम पूरा होने तक इस ब्रिज को बंद क्यों नहीं किया गया।

रेड सिग्नल की वजह से बची कई लोगों की जान- चश्मदीद
एक चश्मदीद ने कहा कि जिस वक्त ब्रिज का हिस्सा गिरा उस वक्त पास के चौराहे पर ट्रैफिक का रेड सिग्नल था। अगर रेड सिग्नल ना होता तो मृतकों की संख्या कहीं ज्यादा हो सकती थी। एक अन्य ने बताया िक सुबह ही इस एफओबी पर रिपेयरिंग का काम किया गया था, इसके बावजूद इस पर आवाजाही जारी थी।

ब्रिज के पास हैं कई बड़े सरकारी दफ्तर
ब्रिज बीएमसी के दफ्तर से 500 मीटर की दूरी पर स्थित है। टाइम्स ऑफ इंडिया बिल्डिंग के अलावा एफओबी के करीबमुंबई पुलिस का मुख्यालय और सीएएमए अस्पताल भी हैं। शाम के वक्त इस इलाके में काफी भीड़ रहती है।

जुलाई 2018 में भी हुआ था हादसा

जुलाई 2018 में मुंबई में भारी बारिश की वजह से अंधेरी स्टेशन के करीब एक फुट ओवरब्रिज का हिस्सा गिर जाने से वेस्टर्न लाइन पर लोकल ट्रेनों की आवाजाही कुछ देर के लिए ठप हो गई थी। इस हादसे में 5 लोगों जख्मी हुए थे।

सितंबर 2017 में एलफिन्स्टन रेलवे स्टेशन पर बनेएफओबी पर मची थी भगदड़
29 सितंबर 2017 को मुंबई के परेल इलाके में एलफिन्स्टन रेलवे स्टेशन पर बना फुट ओवर ब्रिज (एफओबी) पर भगदड़ मची थी। हादसे में 23 लोगों की मौत हो गई थी। मरने वालों में 8 महिलाएं शामिल थीं। तब पश्चिमी रेलवे ने बताया था कि बारिश से बचने के लिए एफओबी पर भारी भीड़ जमा हो गई थी और अफवाह की वजह से भगदड़ मच गई।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


a foot over bridge near Chhatrapati Shivaji Maharaj Terminus collapsed news

We would like to update you with latest news.