सेना ने कहा- ऑर्डनेंस फैक्ट्रियां कर रहीं घटिया गाेला-बारूद सप्लाई


नई दिल्ली.सेना ने सरकारी ऑर्डनेंस फैक्ट्री बोर्ड (ओएफबी) से सप्लाई गोला-बारूद काे बेहद घटिया बताते हुए युद्धक टैंकों, तोपों और एयर डिफेंस गन से हाेने वाले हादसाें की बढ़ती संख्या पर चिंता जताई है। सूत्रों के अनुसार सेना ने यह मुद्दा खासताैर से सचिव (रक्षा उत्पादन) अजय कुमार के समक्ष उठाया है।

कहा गया है कि घटिया गोला-बारूद के चलते पिछले कई साल से सेना के कई प्रमुख हथियाराें काे नुकसान हाे रहा है। सेना के अाग्रह पर रक्षा मंत्रालय ने इस मामले की जांच की है। इसमें पता चला कि ओएफबी गोला-बारूद की क्वालिटी सुधारने काे सतर्क नहीं है। इसीलिए गलत किस्म के गोला-बारूद के इस्तेमाल से हादसे होते रहते हैं।

ओएफबी ने दावा किया है कि क्वालिटी कंट्रोल डिपार्टमेंट डायरेक्टरेट जनरल ऑफ क्वालिटी एश्योरेंस (डीजीक्यूए) से गहन जांच के बाद ही सेना को गोला-बारूद सप्लाई किया जाता है। विभिन्न अधिकृत लेबोरेट्री में सभी प्राथमिक पदार्थों की जांच की जाती है। कई टेस्ट के बाद ही गोला-बारूद सेना काे भेजा जाता है। ओएफबी ने कहा कि उसकी जिम्मेदारी गोला-बारूद के निर्माण से लेकर सप्लाई तक है। उसे इस बात की कोई जानकारी नहीं कि सेना कैसे उसका रखरखाव करती है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Army expressed concern over the quality of ammunition

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

We would like to update you with latest news.