जीएसटी: बिल्डर 20 मई तक पुरानी व्यवस्था का विकल्प चुन सकते हैं



जीएसटी काउंसिल ने बिल्डरों को पुराने प्रोजेक्ट में थोड़ी राहत दी है। बिल्डर इन प्रोजेक्ट के लिए जीएसटी की पुरानी व्यवस्था अपनाने का विकल्प 20 मई तक चुन सकते हैं। पहले इसकी समय सीमा 10 मई थी। काउंसिल ने गुरुवार को एक ट्वीट में यह जानकारी दी। रियल एस्टेट के लिए 1 अप्रैल से नई व्यवस्था लागू हुई है। अफोर्डेबल हाउसिंग प्रोजेक्ट के लिए जीएसटी की दर 1% और सामान्य श्रेणी के लिए 5% हो गई है। लेकिन इस पर बिल्डर को इनपुट टैक्स क्रेडिट नहीं मिलेगा। पहले अफोर्डेबल के लिए जीएसटी रेट 8% और सामान्य के लिए 12% था। इस पर बिल्डर को इनपुट क्रेडिट मिलता था। बिल्डर 1 अप्रैल से पहले शुरू हुए प्रोजेक्ट के लिए इनपुट क्रेडिट वाली पुरानी व्यवस्था अपना सकते हैं। उन्हें यह सुविधा एक बार ही मिलेगी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

We would like to update you with latest news.