इजरायली सेना ने रॉकेट हमले के जवाब में गाजा पर किया हमला

तेल अवीव। इजरायल और फिलिस्तीन के बीच गाजा पट्टी पर तनाव काफी बढ़ गया है। सोमवार को इजरायली सेना ने गजा पट्टी पर शासन करने वाले हमास की ओर से किए गए रॉकेट हमले का जवाब दिया। इजरायली ने हमास पर हमला बोल दिया। इस हमले में सात लोग घायल हो गए। इजरायल के युद्धक विमानों ने गाजा पट्टी में हमास के ठिकानों के खिलाफ हवाई हमले किए। इजरायल ने कहा है कि इस हमले के लिए हमास जिम्मेदार है। गाजा पट्टी के उत्तरी हिस्से में रहने वाले लोगों ने बताया कि सोमवार शाम को विस्फोटकों की आवाज सुनी गई। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि गाजा के दक्षिण में खान यूनिस के पूर्व में एक कृषि क्षेत्र में हवाई हमले हुए। गाजा-इज़राइल सीमा से रिपोर्टिंग करने वाले अल जज़ीरा के हैरी फॉसेट ने कहा कि हमास से जुड़ी कई खाली इमारतें ध्वस्त हो गई हैं।

 

हमास ने इजरायल को दी चेतावनी

बता दें कि गाजा में हमास और इस्लामिक जिहाद ने एक संयुक्त बयान जारी करते हुए इजरायल को चेतावनी दी है। बयान में कहा गया है कि यदि इजरायली सेना ने आगे सीमा और आस-पास के इलाकों का निशाना बनाकर हमला किया गया तो वे पूरी ताकत के साथ जवाब देंगे। इधर गाजा के स्वास्थ्य मंत्री असरद अल-क्युदराह ने सभी अस्पतालों और मेडिकलों को तैयार रहने के लिए आदेश दिए हैं। साथ ही हाई अलर्ट पर रहने को कहा गया है। इसी तरह के बयान इजरायल की ओर से भी सीमावर्ती इलाके में रहने वाले इजरायली नागरिकों के लिए जारी किया गया है।

अमरीका का बड़ा फैसला, डोनाल्ड ट्रंप ने गोलन पहाड़ियों को इजराइल का हिस्सा माना

अमरीका से वापस लौटे नेतन्याहु

बता दें कि इजरायल और गाजा के बीच छिड़े युद्ध के बाद राष्ट्रपति बेंजामिन नेतन्याहु ने अमरीकी दौरे को बीच में ही छोड़कर वापस इजरायल लौट गए हैं। उन्होंने एक बयान जारी करते हुए कहा कि बहुत जल्द ही राष्ट्रपति ट्रंप के साथ वाईट हाउस में आगे मुलाकात होगी। इधर एक बयान में ट्रंप ने इजरायल की ओर से गाजा पर किए गए हमले का समर्थन किया है। ट्रंप ने कहा है कि राष्ट्र की सुरक्षा के लिए जह जरूरी है। इजरायल को अपनी संप्रभुता की रक्षा करने का अधिकार है।

 

Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.

 

We would like to update you with latest news.