4 दोस्तों ने खाताबुक ऐप बनाया; सवा 7 लाख ने डाउनलोड किया, अब देश के टॉप टेन ऐप में शामिल


हनुमानगढ़ (मनोज पुरोहित).कुछ हटकर करने का जज्बा रखने वाले हनुमानगढ़ जंक्शन के एक युवक ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर ‘खाता बुक’ ऐप बनायाहै। महज आठ माह में यह ऐप बिजनेस श्रेणी मेंदेश के टॉप टेनऐप में शामिल हो गया। अब तक इस ऐप को सवा 7 लाख लोगों ने डाउनलोड किया है।

इन चारों युवाओं में शामिल राजस्थान केहनुमानगढ़ के जयदीप पूनियां, बिहार के धनेश कुमार, छत्तीसगढ़ के आशीष औरमेरठ के रवीश नरेश आईआईटी के छात्र रह चुके हैं। इसमें से हनुमानगढ़ के जयदीप पूनियां जंक्शन के एनपीएस स्कूल में पढ़ चुके हैं। छोटे-बड़े व्यापारी अब इस ऐप का इस्तेमालअपने व्यापार के हिसाब-किताब के लिए कर रहे हैं।

इस ऐप के जरिए रोज का हिसाब रख सकते हैं :

  • दरअसल, खाता बुक ऐप बिजनेस श्रेणी काऐपहै। इसे कोई भी व्यापारी आसानी से अपने मोबाइल से डाउनलोड कर सकता है।
  • इसे 11 भाषाओं में बनाया गया है,ताकि कोई भी इसका इस्तेमाल कर सके। दुकानदारों के लिए अपने “उधारे-जमा” लेनदेन का हिसाब बनाए रखने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • जानकारी अनुसार खाताबुक ऐप “Kyte Inc” के नाम से डेलावेयर, यूएसए में पंजीकृत कंपनी के तहत चलताहै। वहीं, भारतीय सहायक कंपनी का नाम “एडीजे यूटिलिटी एप्स प्राइवेट लिमिटेड” है।
  • इसके इस्तेमाल से दुकान का हिसाब आसानी से मैनेज किया जा सकता है। उधार देने के बाद भी साधारणतया हिसाब कई जगह लिखकर रखना पड़ता है।खास बात ये है कि इससे संबंधित उधार चुकाने वाले व्यक्ति के पास एसएमएस से सूचना पहुंचती है और इससे पारदर्शिता रहती है।

जयदीप बोले- असफलता आपको सिखाती है:जयदीप बताते हैं कि जीवन की तरह, स्टार्टअप को भी समझना आसान नहीं है। एक अच्छी सफलता तक पहुंचने से पहले बहुत संघर्ष करना पड़ता है। मैं भी 2-3 प्रयासों में शुरू में विफल रहा। इसी ने मुझे सिखाया और कड़ी मेहनत करने के बाद कामयाबी मिली।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


khatabook app with 7 lakhs downloads included in top ten of country 4 friends created this app

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

We would like to update you with latest news.