फाउंडेशन ने किया बड़ा ऐलान, सारे सदस्य होंगे प्रत्याशी, नोटा होगा चुनाव चिह्न

वाराणसी. सूचना के अधिकार (आईटीआई)के तहत कई घोटाले की पोल खुल चुकी है लेकिन यह कानून राजनीतिक दलों पर लागू नहीं होता है। केन्द्रीय सूचना आयोग ने सारे राजनीतिक दल को 3 जून 2013 को आरटीआई के दायरे में आने, सूचना व अपीली अधिकारी नियुक्त करने को कहा था लेकिन किसी दल ने यह नहीं किया। सभी दल मिल कर संसद में सूचना के अधिकार कानून को कमजोर करने के लिए बिल लाये हैं ऐसे में इस कानून के तहत सभी राजनीतिक दलों को लाने के लिए क्रांति फाउंडेशन ने सभी सदस्यों को लोकसभा चुनाव 2019 का प्रत्याशी बना दिया है और चुनाव चिह्न नोटा रखने का ऐलान किया है।
यह भी पढ़े:-ओमप्रकाश राजभर की पार्टी सुभासपा बढ़ायेगी पीएम नरेन्द्र मोदी की परेशानी, किया यह बड़ा ऐलान

फाउंडेशन के सदस्य राहुल सिंह ने सोमवार को पराड़कर भवन में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि आखिर राजनीतिक दल इस कानून के दायरे में क्यों नहीं आना चाहते हैं। राजनीतिक दलो को आयकर में छूट मिलती है सस्ती दरों पर सरकारी बंगले मिल जाते हैं। विभिन्न स्रोतों से 20 हजार रुपये से कम के कूपन में चंदा मिलता है इसके बाद भी राजनीति दल आरटीआई कानून के तहत नहीं आ रहे हैं जिससे साफ हो जाता है कि कही कुछ गड़बड़ी है जिसे छिपाने के लिए यह दल इस कानून से भाग रहे हैं। राहुल सिंह ने कहा कि लोगों को जानने का हक है कि किस दल को कितना पैसा मिला है। कितने बाहुबलियों को टिकट दिया गया है। इस जानकारी को लेकर में सूचना का अधिकार सबसे सशक्त माध्यम है इसलिए राजनीतिक दल नहीं चाहते हैं कि उनकी सच्चाई लोगों के सामने आये। राहुल सिंह ने कहा कि वह बनारस में एक वॉर रूम बनाने जा रहे हैं। लोगों के घरों में जाकर नोटा सिंबल का प्रचार करेंगे। इसके लिए सोशल मीडिया का भी सहारा लिया जायेगा। देश में प्रथम चरण का चुनाव खत्म हो गया है लेकिन इस कानून को लेकर किसी दल ने सहमति नहीं जतायी है। उन्होंने कहा कि विभिन्न मुद्दों को लेकर एक-दूसरे पर आरोप लगाने वाले दल भी सूचना अधिकार के तहत कानून को लेकर एक हो जाते हैं वह नहीं चाहते हैं कि आम लोगों को ऐसा शस्त्र मिले, जिससे राजनीतिक दलो की कलाई खुल जाये।
यह भी पढ़े:-जिस पार्टी के लिए मुलायम सिंह यादव के परिवार में मची थी कलह, क्या अखिलेश यादव करेंगे बाहुबली के भाई का प्रचार

We would like to update you with latest news.