हर राज्य के सभी मेडिकल कॉलेजों में होगी एक सी पढ़ाई, साथ सेशन शुरू


नई दिल्ली.नीति आयोग ने हर राज्य में एक-एक हेल्थ साइंसेज यूनिवर्सिटी बनाने के लिए कहा है,ताकि जिसे भी राज्य में जितने मेडिकल कॉलेज हों, वहां एक तरह से पढ़ाई हो और सभी कॉलेजों का सेशन भी एक साथ चले। अगर ऐसा होता है तो राज्य के सभी मेडिकल कॉलेजों को एफिलिएशन भी उसी हेल्थ साइंसेज यूनिवर्सिटी से मिलेगा।

नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वीके पॉल ने सभी राज्यों के मुख्य सचिव को एक पत्र लिखा है, जिसमें कहा गया है कि अपने-अपने राज्य में मेडिकल की पढ़ाई का स्टैंडर्ड बढ़ाने और एकरूपता लाने के लिए हेल्थ साइंसेज यूनिवर्सिटी बनाएं।एक यूनिवर्सिटी होने से एमबीबीएस से लेकर पीजी और उसके आगे की पढ़ाई करने वाले छात्रों की परीक्षा एक साथ होगी और रिजल्ट भी एक साथ आएगा। लैब, लाइब्रेरी, प्रैक्टिकल से लेकर इंटरनल एग्जाम का पैटर्न तक एक जैसा होगा। अभी अलग-अलग तरह की शर्तें स्टूडेंट्स और कॉलेज प्रशासन पर थोपी जाती है। वर्तमान में 12 से 13 राज्यों में ही हेल्थ साइंसेज यूनिवर्सिटी हैं।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Policy Commission asked to create one Health Science University in every state

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

We would like to update you with latest news.