जब लालकिले के सामने चुनावी नतीजों को स्कोरबोर्ड पर लिखा गया तो देखने के लिए उमड़ पड़ी भीड़


नई दिल्ली. लोकसभा का चुनाव किसी त्योहार से कम नहीं होता। हर चुनावों में कुछ ऐसी यादें भी रह जाती हैं जो चुनावी इतिहास के पन्नों पर दर्ज हो जाती है। आज हम चुनावों के नतीजे घर में बैठे टीवी, इंटरनेट या बाजारों में लगी बड़ी-बड़ी स्क्रीनों पर देख लेते हैं, लेकिन 1971 में दिल्ली के लाल किले के सामने स्कोरबोर्ड पर आम चुनाव के नतीजे डिस्पले किए गए थे। नतीजों को देखने के लिए भारी संख्या में भीड़ भी उमड़ी थी।

आजादी के बाद के तीन चुनाव जहां नेहरू के नाम रहे, वहीं चौथे चुनाव में इंदिरा की शख्सियत एक गूंगी गुड़िया के जैसी थी। लेकिन 5वें चुनाव में परिस्थितियां बदल चुकी थीं। 1971 का आम चुनाव पूरी तरह से इंदिरा गांधी के नाम रहा। पहली बार इंदिरा गांधी अपने बल पर सत्ता में आईं। गरीबी हटाओ के नारे के साथ इंदिरा बिना शर्त कांग्रेस की सर्वेसर्वा बन गईं। 1971 में पहली बार लोकसभा चुनाव, विधानसभा के चुनावों से पहले कराए गए। इंडियन नेशनल कांग्रेस ने 352 सीटों पर जीत हासिल की। वहीं कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया(मार्क्सवादी) को 25 और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया को 23 सीटों पर जीत मिली।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


When the election results were written on the scoreboard in front of the Red Fort

We would like to update you with latest news.